मनुष्यों के समान पशुओं के भी मूलभूत अधिकार हैंः जिलाधिकारी

0
202
प्रेस विज्ञप्ति ।। पशु क्रूरता निवारण समिति की बैठक लेते हुए जिलाधिकारी हरबंस सिंह चुघ ने कहा कि पशु क्रूरता होने पर कानूनी प्रक्रिया का पालन किया जाए। कलेक्ट्रेट रोशनाबाद में बैठक लेते हुए जिलाधिकारी ने कहा कि पशु क्रूरता रोकने के लिए संवेदनशील व संयमित ढंग से कार्य करें। सामूहिक जिम्मेदारी पर बल देते हुए उन्होंने जागरूकता अभियान चलाने को भी कहा। पशु क्रूरता सम्बन्धी कानूनी प्राविधान प्रशिक्षण संवेदीकरण विषय पर आयोजित कार्याशाला में बोलते हुए जिलाधिकारी ने कहा कि हमारी परम्परा में दयालुता का भाव है। यही इस समस्या के जड़ का निदान है। मनुष्यों के समान पशुओं के भी मूलभूत अधिकार हैं। गौवंश संरक्षण अधिनियम 2007 के बारे में जानकारी देते हुए उन्होंने कहा कि समिति के सदस्यों को वार्षिक आधार पर परिचय पत्र दिया जाएगा। शहरी निकाय क्षेत्र में वधालय के स्थापन का प्रस्ताव मांगा जाएगा व शहरी निकाय में गौवंश पशुओं का पंजीकरण अनिवार्य होगा। एक लाख आबादी वाले क्षेत्र में पशु जन्म नियंत्रण कैम्पस भी बनेगा। काजी हाऊस के संचालन संबंधी रिपोर्ट मांगी जाएगी। पशुपालन विभाग पशु चिकित्सक व गौशाला के प्रबन्धकों के बीच समन्वय स्थापित किया जाएगा। बैठक में सीवीओ एसके नयाल क्षेत्राधिकारी चन्द्रमोहन राजेश भट्ट मनीषा जोशी खाद्य सुरक्षा अधिकारी महिमा जोशी ज्येष्ट अभियोजन अधिकारी सुरेन्द्र जोशी जिला शिक्षा अधिकारी पुष्पारानी नरेश चैधरी व समिति के गैर सरकारी सदस्य उपस्थित थे। जिला सूचना अधिकारी हरिद्वार

 

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY