शिक्षा विभाग की बैठक लेते हुए विभागीय मंत्री मंत्री प्रसाद नैथानी।

0
207

उत्तराखण्ड सरकार मीडिया सेन्टर विधान सभा सूचना एवं लोक सम्पर्क विभाग देहरादून प्रेस नोट टेलीफैक्स 01352666767 देहरादून 23 फरवरी 2016मीसे प्रेस नोट संख्याः 02 शिक्षकों के हित नहीं होंगे प्रभावित मंत्री प्रसाद नैथानी। प्रदेश के विद्यालयी शिक्षा प्रौढ़ शिक्षा संस्कृत शिक्षा पेयजल एवं स्वच्छता मंत्री मंत्री प्रसाद नैथानी ने आज विधान सभा स्थित सभाकक्ष में शिक्षा विभाग की बैठक ली व विभिन्न संगठनों की समस्यायें सुनी। शिक्षा विभाग की उक्त बैठक में विभाग से जुड़े महत्वपूर्ण मुद्दों पर चर्चा हुई। श्री नैथानी ने शिक्षा आचार्य राजकीय शिक्षक संघ प्राथमिक शिक्षक संघ एजुकेशन मिनिस्ट्रीयल आफिसर्स एसोशिएशन के पदाधिकारियों की विभिन्न समस्याऐं सुनी। शिक्षक संघों से चर्चा से पहले मंत्री ने विभागीय अधिकारियों को गेस्ट टीचर्स के वेतन को निबार्धित रूप से दिये जाने प्रधानाचार्य के रिक्त पदों वाले विद्यालयों में प्रभारी प्रधानाचार्य के रूप में सन्तोषजनक सेवा देने वाले प्रभारियों को यथावत रखने एवं सीधी भर्ती के माध्यम से आने वाले प्रधानाचार्यो कि नियुक्ति रिक्त पदों पर किये जाने के निर्देश दिये। बैठक में राजकीय शिक्षक संघ ने शिक्षा मंत्री को अपनी समस्याओं से अवगत कराते हुए मांग रखी कि किसी भी स्तर पर शिक्षकों के तबादले या पदोन्न्ती होनें पर शिक्षक द्वारा विकल्प के रूप में चुने किसी स्थान का चयन किये जाने तथा निश्चित सेवाधि पूर्ण कर लेने पर मिलने वाले स्थानान्तरण की स्थिति पर उक्त स्थानों पर तैनात गेस्ट टीचर के वहां नियुक्त होने से स्थायी शिक्षकों को लाभ से वंचित न किया जाये। इस पर मंत्री ने आश्वस्त किया कि किसी भी शिक्षक व गेस्ट टीचर के साथ अन्याय नहीं किया जायेगा। शिक्षकों के तबादले व पदोन्नति के हित किसी भी दशा में गेस्ट टीचर की नियुक्ति से प्रभावित नहीं होंगे रेगूलर शिक्षक निश्चिंत रहें। ऐसी स्थिति से निपटने के लिए विभाग पूर्णतः तैयार है। अपनी एसीपी व वेतानमान विसंगतियों को भी दूर किये जाने की मांग शिक्षक संघों ने रखी। संघ अधिकारियों ने विद्यालयों के उच्चिकरण के बाद वेतन की समस्या के बारे में भी बताया जिस पर महानिदेशक माध्यमिक शिक्षा डी सेथिल पंाडियन ने वित्त विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिये। त्रिस्तरीय ढांचे अर्थात पी0आर0टी टी0जी0टी0 पी0जी0टी0 पर कार्यवाही हेतु 1 सप्ताह के अन्दर सभी संगठनों की राय प्राप्त कर आवश्यक कार्यवाही किये जाने का आश्वासन भी संघ पदाधिकारियों को दिया। शिक्षा मंत्री ने राज्य में शीघ्र खुलने जा रहे 500 माॅडल स्कूलों का उद्दघाटन बोर्ड परीक्षाओं के बाद किये जाने की भी जानकारी दी। इन विद्यालयों का ढांचा विभाग द्वारा तैयार किया जा रहा है। शिक्षा मंत्री ने कहा कि ये माॅडल स्कूल राज्य की शिक्षा व्यवस्था में क्रांतिकारी परिवर्तन करने में सक्ष्म साबित होंगे। बैठक में अपर मुख्य सचिव विद्यालयी शिक्षा एसराजू सचिव शिक्षा डी सेंथिल पाण्डियन अपर सचिव शिक्षा रंजना निदेशक माध्यमिक शिक्षा राकेश कुंवर एवं निदेशक प्रारम्भिक शिक्षा सीमा जौनसारी एवं विभाग के अन्य अधिकारी मौजूद थे।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY