जिला स्तरीय आरसेटी सलाहकार समिति की बैठक सम्पन्न।

0
192
Advertisment

बैंकों को ऋण जमा अनुपात बढ़ाने के लिये विशेष प्रयास करने होंगे यह बात उपजिलाधिकारी विवेक राय ने आज जिला कार्यालय में आयोजित जिला स्तरीय पुनरीक्षण समिति एवं जिला सलाहकार एवं समन्वय समिति की महत्वपूर्ण बैठक में कही। उन्होंने कहा कि ऋण जमा अनुपात को बढाने के लिये विकास खण्ड पर आयोजित होने वाली बैठक में इस पर विशेष चर्चा की जाय इसके लिये समस्त उपजिलाधिकारियों को जिलाधिकारी महोदय की ओर से पृथक से आदेश जारी किये जायेंगे ताकि जनपद का ऋण जमा अनुपात वृद्धि हो सके इसके लिये बैंकों को भी ठोस कार्य योजना बनानी होगी। इस अवसर पर उन्होंने प्रधानमंत्री जनधन योजना, अटल पेंशन योजना, प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना, प्रधानमंत्री सुरक्षा योजना एवं मनरेगा श्रमिकों के खातों में आधार कार्ड सिडिगं पर चर्चा करते हुये कहा कि इसके लिये बैंकों को प्रयास करना होगा कि अधिकाधिक खातेदार आधार कार्ड से जुड सके। वार्षिक ऋण योजना, फसली ऋण, कृषि मियादी ऋण, वित्तीय समावेशन, लघु उद्योग, सेवा व्यवसाय, प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना, वित्तीय साक्षरता अभियान, समूह के गठन, पी0एम0जी0ई0पी0 योजना, नवीन सरलीकृत, सह अनुदान ग्रामीण आवास योजना, वीर चन्द्र सिंह गढवाली योजना, एन0यू0एल0एम0 योजना आरसेटी योजना, लंबित आर0सी0 पर चर्चा एवं एल0वी0आर0 विवरणीय पर चर्चा हुई। उपजिलाधिकारी ने कहा कि प्रत्येक बैंक अपनेअपने क्षेत्र में वित्तीय साक्षरता शिविर लगाकर ऋण वसूली में तेजी लाने का प्रयास करें साथ ही उद्योगों को स्थापित करने के लिये जिला उद्योग केन्द्र व खादी ग्रामो उद्योग से समन्वय स्थापित कर लाभार्थियों को प्रोत्साहित करें। उपजिलाधिकारी ने वीर चन्द्र सिंह गढ़वाली पर्यटन योजना एवं एन0यू0एल0एम0 योजना के अन्तर्गत लंबित आवेदन पत्रों का निस्तारण समय से करने के निर्देश दिये और यह भी कहा कि जन आवेदन पत्रों में मानकों के अनुसार ऋण दिया जाना सम्भव न हो उसे अपनी रिर्पोट लगाकर तुरन्त आवेदन पत्रों को सम्बन्धित विभागों को भेजवाना सुनिश्चित करेंगे। उन्होंने कहा कि जनपद में ऋण वसूली से सम्बन्धित जितनी आर0सी0 लंबित है सम्बन्धित क्षेत्र के अमीन के साथ बैठक कर स्थिति स्पष्ट करें लें, जिला प्रशासन ऋण वसूली करने में पूर्ण सहयोग प्रदान करेगा। उन्होंने कहा कि बी0एल0बी0सी0 बैठक में शाखा प्रबन्धक अपने वार्षिक ऋण योजना के लक्ष्यों की जानकारी प्राप्त करने के बाद ही बैठक में पूर्ण तैयारी के साथ उपस्थित रहें इसके अलावा सभी बैंक नकली नोटों के संज्ञान में आने पर अपने स्तर से भारत सरकार एवं रिवर्ज बैंक के दिशानिर्देशों के अनुसार आवश्यक कार्रवाही करना सुनिश्चित करेंगे। उपजिलाधिकारी ने बैंको से अपने कार्य के अतिरिक्त जल संरक्षण, जल प्रबन्धन एवं जल उत्पादन पर भी सहयोग देने की अपील की। इस बैठक में ग्रामीण विकास मंत्रालय भारत सरकार के निर्देशों के क्रम में जनपद के विभिन्न लोगों को स्वरोजगार की ओर प्रेरित करने के लिये जो प्रशिक्षण दिया जा रहा है उसके लिये और अधिक लोगों को प्रेरित किया जाय ताकि ऋण देने में उसका सही उपयोग हो सके। इस अवसर पर क्षेत्रीय प्रबन्धक एस0बी0आई0 महेश बड़थवाल, अग्रणी जिला प्रबन्धक मदन गोपाल वर्मा, निदेशक आरसेटी पूरन चन्द्र जोशी ने अपने विचार रखे और ऋण जमा अनुपात में सहयोग देने की अपील की। इस बैठक में क्षेत्रीय सेवायोजन अधिकारी एल0एस0बिष्ट, महाप्रबन्धक उद्योग कविता भगत, जिला प्रबन्धक नाबार्ड मनोज शर्मा सहित विभिन्न बैंकों के प्रतिनिधि व उद्यान, कृषि, खादी ग्रामो उद्योग, समाज कल्याण विभाग के अधिकारी उपस्थित थे

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY