अपर जिला समाज कल्याण अधिकारी को विशेष प्रतिकूल प्रविष्टि

0
209

लाधिकारी सविन बंसल ने बताया कि प्रताप राम बनाम राज्य व अन्य में माननीय उच्च न्यायालय नैनीताल में जिलाधिकारी की ओर से प्रतिशपथ पत्र दाखिल किये जाने हेतु जिला कार्यालय द्वारा 29 अप्रैल को अपर जिला समाज कल्याण अधिकारी अल्मोड़ा बलवन्त सिंह रावत को मा0 उच्च न्यायालय भेजा गया। तदुपरान्त मा0 उच्च न्यायालय नैनीताल द्वारा 19 जुलाई को रिट याचिका प्रकरण में आदेश पारित करने उपरान्त प्रकरण की वस्तुस्थिति पता करने पर ज्ञात हुआ कि प्रतिवादी संख्या 04 जिलाधिकारी की ओर से मा0 उच्च न्यायालय में प्रतिशपथ पत्र दाखिल नहीं किया गया है। अपर जिला समाज कल्याण अधिकारी द्वारा तत्समय इस सम्बन्ध में न ही लिखित रूप से जिलाधिकारी को अवगत कराया एवं नहीं इस सम्बन्ध में कोई तथ्य संज्ञान में लाये गये। उनका यह कृत्य अपने कार्य एवं दायित्वों के प्रति घोर लापर वाही को परिलक्षित करता है जो किसी भी दशा में क्षम्य नही है। उन्होंने बताया कि मा0 उच्च न्यायालय के इतने महत्वपूर्ण रिट प्रकरण में इस प्रकार की घोर लापर वाही अपने कार्य एवं दायित्वों के प्रति अनुशासनहीनता के लिये बलवन्त सिंह रावत अपर जिला समाज कल्याण अधिकारी अल्मोड़ा को उनके द्वारा किये गये उक्त कार्य की निन्दा/भत्र्सना करते हुये वर्ष 201617 में विशेष प्रतिकूल प्रविष्टि प्रदान की जाती हैं। जिलाधिकारी ने जिला समाज कल्याण अधिकारी को निर्देश दिये है कि उक्त प्रविष्टि को रावत की सेवा पुस्तिका में अंकित करने के उपरान्त मेरे समक्ष अवलोकनार्थ प्रस्तुत करना सुनिश्चित करें।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY