पर्यावरण मित्रों को किया गया सम्मानित

0
70

जिलाधिकारी सविन बंसल ने बताया कि नगर कि सफाई व्यवस्था सहित अन्य अवसरों पर पर्यावरण मित्रों द्वारा अहम भूमिका निभाई जाती है इस बात को दृष्टिगत रखते हुये सगंठित सामाजिक दायित्व (सी0एस0आर0) के तहत जिला प्रशासन द्वारा नगर पालिका में कार्यरत 142 पर्यावरण मित्रों हेतु वर्दी बनायी गई। उन्होंने बताया कि 10 सितम्बर 2016 को प्रदेश के मा0 मुख्यमंत्री हरीश रावत, विधानसभा अध्यक्ष गोविन्द सिंह कुंजवाल, सफाई कर्मचारी आयोग के उपाध्यक्ष ए0के0 सिंकन्दर पंवार सहित अन्य अभ्यागतों ने वहां पर 10 पर्यावरण मित्रों को वर्दी वितरित की। मा0 मुख्यमंत्री सहित अन्य अभ्यागतों ने इस अभिनव प्रयास के लिये जिला प्रशासन को सराहा। जिलाधिकारी ने बताया कि जिला प्रशासन व नगर पालिका द्वारा विगत दिनों चलाये गये विशेष सफाई अभियान के तहत इन चयनित पर्यावरण मित्रों ने अहम भूमिका निभाई थी। उन्होंने यह भी बताया कि नगर भ्रमण के दौरान अनेक स्थानों पर यह बात प्रकाश में आई कि छोटेछोटे बच्चे जिन्हें स्कूल की पढाई करनी थी वे भिक्षावृति कर रहे है और निर्धन परिवार के है इस बात का तुरन्त संज्ञान लेते हुये मेरे द्वारा मुख्य शिक्षाधिकारी को निर्देश दिये कि वे ऐसे बच्चों को चिन्हित कर तुरन्त स्कूल में दाखिला करायें। जिन बच्चों को स्कूल में दाखिला कराया गया उनमें से बच्चों को प्रदेश के मा0 मुख्यमंत्री ने पुरस्कार वितरित किये और शिक्षा विभाग द्वारा इस तरह के किये जा रहे प्रयासों के लिये प्रसन्नता व्यक्त की। जिलाधिकारी ने कहा कि शिक्षा विभाग को यह निर्देश दिये गये है कि जहां पर भी निर्धन परिवार के बच्चे स्कूल जाने से वंचित रह गये है उन्हें स्कूल जाने हेतु प्रेरित किया जाय। सफाई कर्मचारी आयोग के उपाध्यक्ष ए0के0 सिंकन्दर पंवार ने जिला प्रशासन द्वारा चलाये गये इस अभिनव प्रयास की सराहना करते हुये कहा कि इससे जहां एक ओर पर्यावरण मित्रों का मनोबल बढेगा वही दूसरी ओर पूर्ण निष्ठा व मनोयोग के साथ कार्य करंेगे। इस तरह के प्रयास अन्य जनपदों में भी करने के लिये आयोग पहल करेगा। इस कार्यक्रम में प्रमुखतः अनिल, सुनील, रूप वंसन्त, मुकेश, ललित, कमला, बिमला, राधा, बिमला, राजेश्वरी को मुख्यमंत्री द्वारा वर्दी प्रदान की गई। नगर पालिका अध्यक्ष प्रकाश चन्द्र जोशी ने भी इस तरह के प्रयासों को आगे बढाने की बात कही।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY