महामहिम राष्ट्रपति प्रवण मुखर्जी के आगामी 28 सितम्बर को केदारनाथ धाम आगमन

0
74

महामहिम राष्ट्रपति प्रवण मुखर्जी के आगामी 28 सितम्बर को केदारनाथ धाम आगमन को लेकर आज जिला कार्यालय सभागार में जिलाधिकारी डाॅ0 राघव लंगर की अध्यक्षता में अधिकारियों की बैठक आयोजित हुई। इस अवसर पर जिलाधिकारी डाॅ0 लंगर ने कहा कि महामहिम राष्ट्रपति के कार्यक्रम कें किसी भी प्रकार की चूक ना हो इसके लिए सभी अधिकारी दी गई जिम्मेदारियों का पूरी तत्परता से निर्वहन करें। बैठक में जिलाधिकारी डाॅ0 राघव लंगर ने बताया कि महामहिम राष्ट्रपति के भ्रमण कार्यक्रम को देखते हुए पूरी तरह वीवीआईपी सुरक्षा व्यवस्था रहेगी। उन्होंने जिला विकास अधिकारी को निर्देशित करते हुए कहा कि महामहिम राष्ट्रपति के कार्यक्रम में नियुक्त सभी अधिकारीकर्मचारियों को पहचान पत्र जारी करना सुनिश्चित करतें, ताकि उस दौरान किसी भी प्रकार की कोई अव्यवस्था न हो। जिलाधिकारी ने जल संस्थान को निर्देशित किया कि भ्रमण कार्यक्रम के दौरान स्वच्छ पेयजल की पूरी व्यवस्था की जाए। साथ ही इसका बात का विशेष ध्यान रखा जाए कईं भी कोई पेयजल लाइन लीकेज ना हो। इसके लिए पहले से ही पूरी व्यवस्थाएं की जाए। जिलाधिकारी ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि केदारपुरी सफाई अभियान चलाया जाय। महामहिम राष्ट्रपति के भ्रमण के दौरान कहीं भी किसी प्रकार की गंदगी ना हो इसके लिए अभी से सफाई व्यवस्था शुरू करें। उन्होने चिकित्सा विभाग को तीन स्टैटिक मेडिकल टीम मन्दिर परिसर में, एमआई 17 हैलीपैड, एमआई26 हैलीपैड के सेफ हाउस में मेडिकल आफिसर, फारमेस्टि, आक्सीजन सिलेण्डर, जीवन रक्षक दवाईयां सहित व्यवस्था करने के निर्देश दिये। उन्होने यह भी कहा कि एक मोबाइल मेडिकल टीम की व्यवस्था भी की जाय जो महामहिम के साथसाथ चलती रहे। इसके साथ ही उन्होने मुख्य चिकित्साधिकारी को आज शाम तक जैनसैट व इ्र्रधन की स्थिति की सूचना उपलब्ध कराने के भी निर्देश दिये। उन्होने बीकेटीसी, उरेडा, विद्युत विभाग को मन्दिर परिसर में उरेडा द्वारा निर्बाध ईधन आपूर्ति की सयुक्त जांच करने के निर्देश दिये। बैठक में एसडीओ बीएसएनएल को निर्देशित करते हुए जिलाधिकारी डाॅ0 राघव लंगर ने कहा कि दूरसंचार व्यवस्था सुचारू रहे, इसका विशेष ध्यान रखा जाए। ताकि कार्यक्रम के दौरान कनेक्टिविटी की दिक्कत ना आए। इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक प्रहलाद नारायण मीणा ने कहा कि महामहिम राष्ट्रपति के भ्रमण कार्यक्रम को देखते हुए सुरक्षा की पुख्ता व्यवस्था की जाएगी। इसके लिए सुरक्षा नियमों के अनुसार ही तैयार की जाएगी। केदारपुरी में मंदिर परिसर तक बैरिकेंटिंग की जाएगी। उन्होंने कहा कि सभी कार्यदायी संस्थाओं के अंतर्गत काम करने वाले कर्मचारी व मजदूरों को भी सम्बंधित संस्थाओं द्वारा पहचान पत्र जारी किए जाएंगे, ताकि प्रत्येक की पहचान हो सके। इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी डीआर जोशी, अपर जिलाधिकारी राहुल गोयल, उप जिलाधिकारी सदर मुक्ता मिश्र, ऊखीमठ यूएस चैहान, जखोली देवमूर्ति यादव सहित सभी जिला स्तरीय अधिकारी मौजूद थे।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY