माननीय मुख्यमंत्री हरीश रावत ने किया रामलीला का समापन

0
67

माननीय मुख्यमंत्री हरीश रावत ने किया रामलीला का समापन : अल्मोड़ा 12 अक्टूबर, 2016(सू0वि0) ऐतिहासिक और सांस्कृतिक दृष्टि से महत्वपूर्ण जनपद अल्मोड़ा का दशहरा महोत्सव साम्प्रदायिक सदभाव की अद्भुद मिसाल है। यह बात प्रदेश के माननीय मुख्यमंत्री हरीश रावत ने आज हेमवन्ती नन्दन बहुगुणा स्टेडियम में आयोजित दशहरा महोत्सव के समापन अवसर पर कही। उन्होंने कहा कि विगत कई वर्षो से यहां पर जीवन्त पुतलों का निर्माण किया जाता रहा है। यह प्रदेश ही नहिं अपितु देश और विदेश में अपनी विशिष्ट पहचान बनाये हुए है। माननीय मुख्यमंत्री ने कहा कि यह महोत्सव जहां एक ओर बाहरी पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित करने का अनूठा प्रयास कर रहा है वहीं दूसरी और इस महोत्सव में सभी धर्मो के लोग बढ़चढ़कर भागीदारी करते आ रहें हैं। यहां पर आयोजित होने वाली रामलीलाओं में मुस्लिम, पंजाबी व अन्य सभी धर्मो के लोगों ने बढ़चढ़कर भागीदारी की जा रहीं है। उन्होंने कहा कि इस महोत्सव को व्यापक रूप प्रदान करने के लिए प्रदेश शासन द्वारा हर संभव सहायता प्रदान करने का प्रयास किया जा रहा है। इस अवसर पर आयोजित होने वाली आतिषबाजी भी अपने आप में अनूठी मिषाल है। माननीय मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेष के पर्यटन एवं संस्कृति विभाग को निर्देश दिये गये है कि इस महोत्सव को और अधिक भव्यता मिल सके इसके लिए एक ठोस कार्ययोजना बना ली जाय साथ ही इसके इतिहास के बारे में भी व्यापक प्रचार प्रसार किया जाये। उन्होंने इस अवसर पर जिन पुतला समितियों द्वारा पुतलों का निर्माण किया गया है उन्हें राज्य सरकार की ओर से 2121 हजार रू0 तथा जिन ताजिया समितियों द्वारा ताजियों का निर्माण किया गया है उन्हें 2121 हजार रू0 दिया जायेगा। प्रदेश के मा0 मुख्यमंत्री ने कहा कि शीघ्र ही टैक्सी टर्मिनस बनाने का कार्य सहित टनल रोड का कार्य भी शीघ्र किया जायेगा। पर्यटन को बढ़ावा देने के अल्मोड़ा में विवेकानन्द पर्यटन सर्किट बनाने के साथ ही कर्बला में जहाॅ पर स्वामी विवेकानन्द ने विश्राम किया था उस क्षेत्र को विकसित करने का भी काम किया जायेगा। उन्होंने कहा कि पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए अनेक महत्वाकाक्षी योजना सरकार चला रही है जिसका आगामी वर्षों में हमें लाभ मिलेगा। मा0 मुख्यमंत्री ने कहा कि जिन रामलीला कमेटियों द्वारा रामलीला का मंचन करते हुए 25 वर्ष से अधिक का समय हो चुका है उन्हें सरकार विशेष अनुग्रह राशि देगी। दशहरा महोत्सव के अवसर पर आयोजित होने वाले कार्यक्रमों को महत्व देने के लिए उन्होंने संसदीय सचिव से कहा कि वे एक व्यापक कार्य योजना तैयार कर लाये उस पर शीघ्र सकरात्मक निर्णय लिया जायेगा। मा0 मुख्यमंत्री ने अल्मोड़ा पहुॅचने पर प्रत्येक पुतला समिति के पदाधिकारियों से बाजार में जाकर सम्पर्क किया और अन्य बाहर से आये हुए पर्यटको से भी रूबरू हुए। सर्किट हाउस से थाना बाजार होते हुए पूरे बाजार का उन्होंने पैदल भ्रमण किया। इससे पूर्व माननीय मुख्यमंत्री ने लिंक रोड़ में मिलन होटल मिलम इन का उद्द्याटन करते हुए कहा कि इससे बाहर से आने वाले पर्यटकों को सुविधा मिलेगी और पर्यटन व्यवसाय बढ़ेगा। उन्होंने होटल स्वामी धर्म सिंह बिष्ट के स्वालम्बन की ओर आगे बढ़ने की प्रशंसा करते हुए कहा कि हमारे युवाओं को इनसे प्रेरणा लेनी होगी। दशहरा महोत्सव में केन्द्रीय गृह राज्य मंत्र किरन रिजिजू ने कहा कि सांस्कृृतिक नगरी ने न केवल संस्कृ्ति के क्षेत्र में अपनी पहचान बनायी है अपितु उत्तराखण्ड ने वीर सपूतो को जन्म देकर हमारी सेना का मान बढ़ाया है। उन्होंने कहा कि सीमावर्ती क्षेत्रों में सड़क सुविधा सहित अन्य सुविधा मुहैया कराना केन्द्र सरकार की प्राथमिकता है। केन्द्रीय गृह राज्य मंत्री ने कहा कि वे अपने स्तर से इस मेले का व्यापक प्रचारप्रसार विभिन्न प्रान्तों में जाकर करेंगे। केन्द्रीय गृह राज्य मंत्री ने कहा कि पर्वतीय राज्यों के युवाओं को आगे बढ़ने के अवसर प्रदान हो सके इसके लिए पैरा मिलेट्री फोर्स में इन राज्यों का कोटा बढाये जाने पर विचार किया जायेगा। केन्द्रीय कपड़ा राज्य मंत्री अजय टम्टा ने कहा कि पूर्व में बिमौला में जो आई0टी0बी0पी0 बिग्रेड थी उसे पुनः यहाॅ पर लाने एवं देवली में आई0टी0बी0पी0 का मोटर ड्राईविंग सेन्टर खोलने के लिए केन्द्रीय ग्ह राज्य मंत्री से अनुरोध किया गया है और उन्होंने इस पर अपनी सहमति दे दी है आशा है कि शीघ्र ही यह कार्य रूप में परणित होगा। नगर पालिका अध्यक्ष प्रकाश जोशी ने नगर की अनेक समस्याओं का निदान किये जाने पर प्रदेश के मा0 मुख्यमंत्री का आभार प्रकट करते हुए कहा कि सीवर लाईन, टैक्सी स्टैण्ड, टाऊन हाल सहित अनेक अन्य समस्यायें है जिसका निदान किया जाना आवश्यक है। उन्होंने पूरे नगर की ओर से सभी अतिथियों का आभार भी व्यक्त किया। दशहरा महोत्सव समिति के अध्यक्ष विनोद वैष्णव, मनोज बर्मा, सहित अनेक लोगों ने अपने विचार रखते हुए कहा कि सांस्कृतिक नगरी में इस तरह के आयोजन पूरे विश्व में एक अनूठी मिसाल है। इस कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे संसदीय सचिव मनोज तिवारी ने अतिथियों का स्वागत करते हुए कहा कि इस तरह के आयोजन तभी सफल हो सकते है जब इसमें सभी वर्गो का सहयोग प्राप्त हो। उन्होंने प्रदेश के मुख्यमंत्री से दशहरा महोत्सव समिति की माॅगों व शहर की अन्य माॅगों को प्राथमिकता के आधार पर पूर्ण करने की बात कही। साथ ही उन्होंने कहा कि अल्मोड़ा की होली परम्परा को भी आगे बढ़ाने के लिए हमें इस आयोजनों को बढ़ावा देना होगा। उन्होंने कहा कि यहाॅ पर रावण परिवार के दो दर्जन से अधिक पुतलों का निर्माण किया जाता है। साथ ही उन्होंने कहा कि मर्यादा पुरूषोत्तम राम जी के आदर्शो को आत्मसात करते हुए देश की उन्नति के लिए टीम भावना से काम करना होगा। दशहरा महोत्सव में पहली बार लेजर शो इस कार्यक्रम का मुख्य आकर्षण रहा। इस कार्यक्रम में अनुसूचित जाति आयोग के उपाध्यक्ष राजेन्द्र बाराकोटी, पर्यावरण मित्र आयोग के उपाध्यक्ष ए0के0 सिकन्दर पवाॅर, पूर्व दर्जा राज्य मंत्री केवल सती, पूर्व विधायक रघुनाथ सिंह चैहान, कैलाश शर्मा, दुग्ध संघ के अध्यक्ष दीप डाॅगीं, अर्बन कापरैटिव बैंक के अध्यक्ष आनन्द सिंह बगडवाल, कांग्रेस जिलाध्यक्ष पीताम्बर पाण्डे, नगर अध्यक्ष पूरन रौतेला, भाजपा जिलाध्यक्ष ललित लटवाल, तारा चन्द्र जोशी, परितोष जोशी, अशोक पाण्डे, दीपेश जोशी, मनोज सनवाल, सचिन टम्टा, मनीष जोशी, पंकज काण्डपाल, जिलाधिकारी सविन बंसल, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक दलीप सिंह कुंवर, उप जिलाधिकारी विवेक राय, रजा अब्बास, एनएस नगन्याल जिला विकास अधिकारी मोहम्मद असलम, सहित अनेक लोग उपस्थित थे। इस कार्यक्रम का संचालन युसूफ तिवारी ने किया। इसके बाद मा0 मुख्यमंत्री ने कर्नाटकखोला में आयोजित रामलीला में प्रतिभाग किया।17579_1476263353

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY