गढ़वाल केंद्रीय विश्वविद्यालय के पौड़ी परिसर

0
63
harish-rawat-at-HNB
harish-rawat-at-HNB

गढ़वाल केंद्रीय विश्वविद्यालय के पौड़ी परिसर में आयोजित छात्र संघ उद्धाटन समारोह में सीएम हरीश रावत ने की शिरकत : दिनांक 20 अक्टूबर, 2016 हेमवती नंदन बहुगणा गढ़वाल केंद्रीय विश्वविद्यालय परिसर में आयोजित छात्र संघ उद्घाटन समारोह में प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री हरीश रावत द्वारा शिरकत की तथा राजकीय पाॅलीटेक्निक विद्यालय का शिलान्यास मंत्रोच्चारण के बीच किया। कार्यक्रम का शुभारंभ अतिथियों द्वारा दीप प्रज्जवलित कर किया गया। इस अवसर पर उन्होंने नव निर्वाचित छात्रसंघ पदाधिकारियों को शुभकामनाएं देते हुए उनके उज्जवल भविष्य की कामना की। उन्होंने कहा कि प्रकृति ने हमें सौंदर्य से भरपूर सुविधाएं उपलब्ध कराई हैं। जिसका उचित दोहन कर पर्यटन के क्षेत्र को विकसित किया जा सकता है। उन्होंने कण्वाश्रम, कोटद्वार, लैसडोन, पौड़ी, खिर्सू को जोड़कर नया पर्यटन सर्किट बनाए जाने पर जोर दिया। उन्होंने ल्वाली में कृत्रिम झील निर्माण के आंगणन की जानकारी भी दी। इस अवसर पर विश्वविद्यालय परिसर में उपस्थित छात्र छात्राओं एवं शिक्षकों को संबोधित करते हुए कहा कि हमें शैक्षणिक वातावरण तैयार कर बच्चों को उत्कृष्टता की ओर बढ़ाना है। इसके अलावा उन्होंने खेती को चुनौति के रूप में लेते हुए कहा कि इसे आजीविका सृजन के रूप में लिया गया है। जिसका असर भी अब परिवर्तन के रूप में दिखाई दे रहा है। उन्होंने शिल्प क्षेत्र के संरक्षण के रूप में सभी के वैचारिक सहयोग की आवश्यकता पर जोर दिया। कहा कि दस्तकारी को शिल्प के साथ जोड़कर काम करने वाले लोगों को आगे बढ़ाने का प्रयास करना है। उन्होंने कहा कि शिक्षा के क्षेत्र में आज राज्य सरकार सबसे ज्यादा खर्च कर रही है। कहा कि आज हमारे राज्य में 100 से अधिक डिग्री कालेज, 150 आईटीआई तथा 80 पालिटेक्निक संस्थान चलाए जा रहे हैं। जिससे बच्चों को तकनीकी रूप से दक्ष व उच्च शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार लाया जा सके। उन्होेंने कहा कि सरकार 30 हजार सरकारी पदों पर नवयुवकों को रोजगार देने का प्रयास कर रही है। जिसके तहत 14500 पदों पर नियुक्ति हो चुकी है। अवशेष पदों का रोड मैप तैयार कर शीघ्र ही भर्ती प्रक्रिया शुरू कर इस वर्ष के अन्त तक भरा जाएगा। उन्होंने स्किल डवेलपमेंट की बात करते हुए कहा कि शिक्षित बेराजेगारों को बैंकों से ऋण दिलाकर उन्हें उद्यमी बनाकर अन्य लोगों को भी स्वरोजगार के लिए प्रेरित किया जाएगा। उन्होंने बताया कि इस वर्ष 15 लाख से अधिक लोग चार धाम की यात्रा कर चुके हैं जो कि अभी तक का रिकार्ड है। कार्यक्रम में मुख्यमंत्री ने पौड़ी बस स्टेशन के निर्माण हेतु एक करोड़ रूपये रिलीज करने की भी घोषणा की। इसके अलावा पौड़ी परिसर में क्रीड़ा मैदान के निर्माण हेतु प्रारंभिक कार्यों के लिए 11 लाख रूपये तथा उच्च स्थलीय क्रीड़ा मैदान रांसी को प्रशिक्षण केंद्र के रूप में विस्तारिकरण की भी स्वीकृती दी। उन्होंने पौड़ी परिसर में कंप्यूटर लैब स्थापना की प्रशासनिक स्वीकृति देते हुए वर्ष 201718 में इसके निर्माण की बात कही। उन्होंने कहा कि लोगों को खेती की नई तकनीक, खुले में शौच मुक्त, वृक्षों में बोनस, चालखाल निर्माण में पानी पर बोनस तथा वृक्षोरोपण के कार्यों को तेजी से चलाए जाने पर जोर दिया। उन्होंने कहा कि राज्य में 87 प्रतिशत परिवार स्वच्छ भारत मिशन के अंतर्गत खुले में शौच से मुक्त हो गए है तथा आगामी वर्ष तक सम्पूर्ण राज्य खुले में शौच से मुक्त करने के प्रयास राज्य सरकार द्वारा किए जाएंगे। उन्होंने कहा कि आगामी पाचं वर्षों में सड़कों की दशा सुधारी जाएगी तथा वर्ष 2018 तक सभी गांवों को सड़कों से जोड़ दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि इस वर्ष एक हजार सड़कों का निर्माण किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि उत्तराखण्ड में परिवर्तन गरीबी व अशिक्षा से संघर्ष करने के बाद ही प्राप्त किया जा सकता है। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि राज्य सरकार द्वारा समाज कल्याण विभाग समेत अन्य विभागों की ओर से 15 प्रकार की पेंशनें दी जा रही है। जिसके तहत 7.13 लाख लोग लाभांवित हो रहे हंै। जिन्हें आगामी वर्ष से बढ़ाकर आठ लाख करने का प्रयास किया जा रहा है। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि कंडोलिया जंगल को मलासी डियर पार्क की तरह विकसित कर वहां पर छोटी रोप वे का निर्माण किया जाएगा। मुख्यमंत्री ने इस मौके पर क्षेत्रीय विधायक सुंदर लाल मंद्रवाल, विशिष्ट अतिथि राजपाल बिष्ट, नगर पालिका पौड़ी के अध्यक्ष यशपाल बेनाम, राज्य मंत्री व पूर्व एमएलसी पीपीएस चैहान, वयोवृद्ध समाजसेवी कुंजबिहारी नेगी, अधिष्ठाता पौड़ी परिसर डा. राकेश काला, निदेशक प्रो. एके डोबरियाल, चुनाव अधिकारी प्रो. केसी पुरोहित, छात्रसंघ अध्यक्ष राहुल शाह, महामंत्री राजेश भंडारी समेत आदि ने विचार रखे। इस मौके पर जिलाध्यक्ष कामेश्वर राणा, नवल किशोर, तामेश्वर आर्य, महेश ढौंिडयाल, अखिलेश तिवारी, अंकित सुंदरियाल, हिमानी देशववाल, विवि प्रतिनिधि ऋषभ, उपेंद्र भट्ट समेत आयुक्त गढ़वाल मंडल विनोद शर्मा, जिलाधिकारी चंद्रशेखर भट्ट, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक निवेदिता कुकरेती कुमार, सीडीओ विजय जोगदंडे समेत विभिन्न विभागों के जिलास्तरीय अधिकारी एंव पौड़ी परिसर के शिक्षक व छात्र छात्राएं व कर्मचारी उपस्थित रहे।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY