सरकार गांव के द्वार की परिकल्पना को साकार करने के लिए जिलाधिकारी पंहुचे सूदुरवर्ती गांव

0
58
सरकार गांव के द्वार की परिकल्पना को साकार करने के लिए जिलाधिकारी पंहुचे सूदुरवर्ती गांव

सरकार गांव के द्वार की परिकल्पना को साकार करने के लिए जिलाधिकारी पंहुचे सूदुरवर्ती गांव :  जिलाधिकारी सविन बंसल ने विकास खण्ड भैंसियाछाना के अति दुर्गम एवं सुदुरवर्ती गांव जिंगल, सल्ला भाटकोट, तोली, तल्ला सेराघाट आदि गांवो का पैदल भ्रमण कर वहां पर लोगों की समस्यायें सुनी और सम्बन्धित अधिकारियों को मौके पर उसका निराकरण करने के निर्देश दिये। जिलाधिकारी अपने भ्रमण के दौरान इन दूरस्थ गांवों में पंहुचेे जहाॅ लोगों द्वारा उनका आभार व्यक्त किया गया। इन सुदुरवर्ती ग्रामीण क्षेत्रों में प्रथम बार किसी जिलाधिकारी के पहुॅचने पर ग्रामीणों ने प्रसन्नता व्यक्त करते हुए कहा कि उनकी मूल भूत समस्याओं का समाधान हो जाने की आस जगी है। जिलाधिकारी ने ग्राम जिंगल के प्राथमिक विद्यालय के सामने की दीवार जो कुछ समय पूर्व क्षतिग्रस्त हो गयी थी उसे तत्काल सर्व शिक्षा अभियान के मद से बनाने के निर्देश उप शिक्षा अधिकारी को दिये। भ्रमण के दौरान उन्होने पाया कि उच्च प्राथमिक विद्यालय तल्ला सेराघाट बनने के बाद भी अभी तक इसमें कक्षाएं संचालित नहीं हुई हैं उन्होने निर्देश दिये कि ऐसे विद्यालयों की सूची उन्हें उपलब्ध करायी जाए जिन विद्यालयों में अभी तक कक्षाएं संचालित नहीं हुई हैं साथ ही जो विद्यालय किसी कारण बन्द हैं या क्षतिग्रस्त हुए हैं उनकी सूची भी उपलब्ध करायें। जिंगल व तल्ला सेराघाट दोनों गावों के नालों में मलबा आने से दोनांे गावों के खेतों में नुकसान हुआ है इसके लिए जिलाधिकारी ने अधिशासी अभियंता पी0एम0जी0एस0वाई को निर्देश दिए यथाशीघ्र दोनों गावों से मलबे को हटाए जाने की कार्यवाही और साथ ही वहां पर दिसम्बर माह तक चैक डैम एवं सुरक्षा दीवार भी बनायें। उन्होने जिला विकास अधिकारी को भी निर्देश दिए की मनरेगा के माध्यम से भी इन गावों में छोटेछोटे चैक डैम बनाये ताकि पानी के साथ आने वाले मलबे के बहाव को रोका जा सके। जिंगल गांव में ग्रामीणों द्वारा सिंचाई नहर का कार्य जल्द से जल्द शुरू करवाने का आग्रह किया गया इस पर जिलाधिकारी ने अधिशासी अभियंता सिंचाई को निर्देश दिए कि वह इसी माह से वहां पर कार्य प्रारम्भ करवाए। ग्रामीणों द्वारा मनरेगा के भुगतान की भी शिकायत इस दौरान की गई इस पर जिलाधिकारी ने कहा कि भारत सरकार से ही यह विलम्ब हो रहा है पैसा प्राप्त होते ही भुगतान भी कर दिया जाएगा। तल्ला सेराघाट में लगभग 12 परिवारों के मकानो को आपदा से नुकसान एवं खतरे की संभावना को देखते हुए जिलाधिकारी ने तहसीलदार को निर्देश दिए वहां पर खुली बैठक आयोजित करें और जो लोग भी विस्थापित होना चाहतें हैं उसका प्रस्ताव बना लें साथ ही ग्रामीणों के साथ मिलकर आसपास में विस्थापन के लिए भूमि भी तलाश करें। इस दौरान ग्रामीणों द्वारा पेयजल की समस्या से भी अवगत कराया गया उन्होने अधिशासी अभियंता को निर्देश दिये कि जब तक चालू पेयजल योजना का कार्य पूर्ण नहीं हो जाता है तब तक जिंगल में पेयजल के लिए वैकल्पिक व्यवस्था करे। उन्होने हरड़ाजिंगल पेयजल योजना की जांच करने के निर्देश अधिशासी अभियंता जल संस्थान और उपजिलाधिकारी को दिए। इसके अतिरिक्त बरसात से हुए नुकसान के लिए मनरेगा के अन्तर्गत कार्य योजना बनाकर मनरेगा से भूकटाव रोकने, जल मोड़ नालियां बनवाने हेतु खण्ड विकास अधिकारी को निर्देश दिये। जिलाधिकारी ने भ्रमण के दौरान ग्रामीण क्षेत्र में शिक्षा, स्वास्थ्य, विद्युत, पेयजल, कृषि, उद्यान विभाग की जानकारी प्राप्त की और ग्रामीणों को आश्वस्त किया कि उनकी समस्याओं का निराकरण प्राथमिकता से होगा। जिलाधिकारी ने कहा कि इसी तरह अन्य विकासखण्ड के सुदूरवर्ती ग्रामों का उनके द्वारा भ्रमण किया जायेगा इसलिए सभी विभागीय अधिकारी गाॅवों में संचालित योजनाओं के रखरखाव उनके क्रियान्वयन एवं निर्माण कार्यों की गुणवत्ता का विशेष ध्यान रखें यदि कही पर भी कोई लापरवाही दृष्टिगोचर होगी उसे गम्भीरता से लिया जायेगा। इस भ्रमण के दौरान जिलाधिकारी के साथ जिला विकास अधिकारी मो0 असलम, आपदा प्रबन्धन अधिकारी राकेश जोशी, तहसीलदार अल्मोड़ा प्रयाग दत्त सनवाल, जिला समाज कल्याण अधिकारी राजीव नयन तिवारी, अधिशासी अभियन्ता पी0एम0जी0एस0वाई0 हरीश रौतेला, अधिशासी अभियन्ता सिंचाई विभाग नवीन सिंघल, अधिशासी अभियन्ता जल संस्थान नन्द किशोर, खण्ड विकास अधिकारी भैंसियाछाना गोपाल नाथ गोस्वामी, खण्ड शिक्षा अधिकारी सी0एस0 बनकोटी, उप शिक्षा अधिकारी हरीश रौतेला सहित क्षेत्र के समस्त ग्राम पंचायत विकास अधिकारी तथा राजस्व उपनिरीक्षक मौजूद रहे।

सरकार गांव के द्वार की परिकल्पना को साकार करने के लिए जिलाधिकारी पंहुचे सूदुरवर्ती गांव
सरकार गांव के द्वार की परिकल्पना को साकार करने के लिए जिलाधिकारी पंहुचे सूदुरवर्ती गांव

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY