मुख्यमंत्री हरीश रावत ने प्रदेश में खेल सुविधाओं के विकास के लिये अगले वर्ष से खेल विभाग के बजट को दुगुना किये जाने के निर्देश दिये है।

0
57
मुख्यमंत्री हरीश रावत ने प्रदेश में खेल सुविधाओं के विकास के लिये अगले वर्ष से खेल विभाग के बजट को दुगुना किये जाने के निर्देश दिये है
मुख्यमंत्री हरीश रावत ने प्रदेश में खेल सुविधाओं के विकास के लिये अगले वर्ष से खेल विभाग के बजट को दुगुना किये जाने के निर्देश दिये है

मुख्यमंत्री हरीश रावत ने प्रदेश में खेल सुविधाओं के विकास के लिये अगले वर्ष से खेल विभाग के बजट को दुगुना किये जाने के निर्देश दिये है : मुख्यमंत्री हरीश रावत ने प्रदेश में खेल सुविधाओं के विकास के लिये अगले वर्ष से खेल विभाग के बजट को दुगुना किये जाने के निर्देश दिये है। उन्होंने युवा खिलाड़ियों की मांग पर देहरादून के चारों दिशाओं में चार बेडमिन्टन कोर्ट स्थापित करने, दिसम्बर में बाॅलीबाल टुर्नामेंट आयोजित करने, कम से कम 50 अतिरिक्त कोचों की नियुक्ति करने, फुटबाॅल, बास्केटबाॅल सहित अन्य खेलों का हर साल टुर्नामेंट आयोजित करने, युवा खिलाड़ियों को और बेहतर मौके प्रदान करने के लिय ‘कैच देम यंग’ खेल की नई पाॅलिसी बनाये जाने के साथ ही परम्परागत खेलों को बढ़ावा देने के लिये भी शीघ्र नीति तैयार करने के निर्देश दिये। सभी विभागों में खिलाड़ियों की नियुक्ति से संबंधित प्रस्ताव भी शीघ्र कैबिनेट में लाने के उन्होंने निर्देश दिये। बीजापुर हाउस सभागार में शनिवार को बड़ी संख्या में युवा खिलाड़ियों से भेंट करते हुए मुख्यमंत्री श्री रावत ने कहा कि खेल हमारे भविष्य व जीवन का हिस्सा है। दुनिया में सुरक्षित भविष्य भी खेलों में है। खेलों में बेहतर प्रदर्शन पर ही वाहवाही मिलती है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में स्थापित हो रहे महाराणा प्रताप अन्तर्राष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम में एक स्टेण्ड का नाम प्रख्यात क्रिकेटर महेन्द्र सिंह धौनी के नाम पर तथा महाराणा प्रताप स्पोर्ट स्टेडियम के एस्टोटर्फ हाॅकी मैदान का नाम भारतीय महिला हाॅकी टीम की कप्तान वन्दना कटारिया के नाम पर रखा जायेगा। यह भी नीति बनायी जायेगी कि हमारे प्रदेश का जो भी खिलाड़ी नेशनल टीम में कप्तानी करेगा, उनके नाम को भी स्टेडियमों से जोड़ने तथा खेलों के प्रमोशन के लिये कार्य करने वालों के साथ स्थानीय लोगों को सम्मान देने के लिये खेल मंत्री की अध्यक्षता में कमेटी बनायी जायेगी। उन्होंने कहा कि दिसम्बर प्रथम सप्ताह में प्रदेश में यंग स्पोटर्स पार्लियामेंट का आयोजन किया जायेगा। जिसमें विभिन्न खेलों के विकास हेतु प्राप्त होने वाले सुझावों पर भी अमल किया जायेगा। उन्होंने कहा कि हरिद्वार में 19 से 24 नवम्बर तक बाॅक्सिंग चैम्पियन शिप का आयोजन किया जा रहा है। उन्होंने नाॅन ओलम्पिक गेमों को भी बढ़ावा देने तथा प्रदेश में शीघ्र अन्तर्राष्ट्रीय स्टेडियम की भी स्थापना किये जाने की बात कही। इस अवसर पर युवा खिलाड़ियों से मुख्यमंत्री ने सीधे बात की तथा उनके विचार सुने। उन्होंने युवा खिलाड़ियों के सुझावों पर अमल के लिये मौके पर ही अधिकारियों को निर्देश दिये। ओलम्पिक खिलाड़ी मनीष रावत, बाॅड़ी बिल्डर खिलाडी राहुल बिष्ट आदि ने भी युवा खिलाड़ियों को खेलों के प्रति समर्पित भाव से जुड़े रहने को कहा। युवा खिलाड़ियों ने खेलों के विकास के लिये मुख्यमंत्री श्री रावत के प्रयासों की सहराहना की। कैबिनेट मंत्री दिनेश अग्रवाल, सभा सचिव व विधायक राजकुमार, सचिव शैलेश बगोली ने भी खेलों के विकास के लिये किये जा रहे प्रयासों की जानकारी दी। इस अवसर पर पूर्व विधायक जोत सिंह बिष्ट, बास्केट बाॅल खिलाडी अमित रावत सहित विभिन्न खेलों के खिलाड़ी, खेल विभाग के अधिकारी तथा बड़ी संख्या में युवा खिलाड़ी उपस्थित थे।

मुख्यमंत्री हरीश रावत ने प्रदेश में खेल सुविधाओं के विकास के लिये अगले वर्ष से खेल विभाग के बजट को दुगुना किये जाने के निर्देश दिये है
मुख्यमंत्री हरीश रावत ने प्रदेश में खेल सुविधाओं के विकास के लिये अगले वर्ष से खेल विभाग के बजट को दुगुना किये जाने के निर्देश दिये है

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY